बंदनमाल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बंदनमाल पु संज्ञा पुं॰ [सं॰ वन्दनमाल] [स्त्री॰ वंदनमाला] दे॰ 'वंदनवार' । उ॰—(क) मुक्ता बंदनमाल जुलसैं । जनु आनंद भरे घर हँसैं ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ २३५ । (ख) मालनि सी जहँ लछिमी लोले । बंदनमाला बाँधति डोले ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ २३१ ।