बकयन्त्र

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बकयंत्र संज्ञा पुं॰ [सं॰ वकयंत्र] वैद्यक में एक यंत्र का नाम । विशेष— यह काँच की एक शीशी होती हे जिसका गला लवा होता है और सामने बगले के गले की तरह झुका होता है । इस यंत्र से काम लेने के समय शीशी को आग पर रख देते हैं और झुके हुए गले के सिरे पर दूसरी शीशी अलग लगा देते है जिसमें तेल या अरक आदि जाकर गिरता है ।