बकाना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बकाना क्रि॰ सं॰ [हिं॰ बकना का प्रेरणार्थक रूप]

१. बक बक करने पर उद्यत करना । बक बक कराना ।

२. कहलाना । रटाना । उ॰— बार बार वकि श्याम सों कछु बोल बकावत । दुहुंघा द्वै दैतली भई अति मुख छबि पावत ।—सूर (शब्द॰) ।