बक्रिमा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बक्रिमा संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ बक्रिमा] वक्रता । टेढ़ापन । वाँकपन । उ॰— गति न मंद कछु भई सुहाई । नैनन नहिंन बक्रिमा आई ।— नंद॰ ग्र॰, पृ॰ १५७ ।