बतिया

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बतिया ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ वर्त्तिका, प्रा॰ बतिया( = बत्ती)] थोडे़ दिनों का लगा हुआ कच्चा छोटा फल । छोटा, कोमल और कच्चा फल । उ॰—इहाँ कुहँड़ बतिया कोउ नाहीं । जो तर्जनि देखत मरि जाहीं ।—तुलसी (शब्द) ।

बतिया ‡ ^२ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ बात + इया] दे॰ 'बात' । उ॰—कहो उस देश की बतिया जहाँ नहिं होत दिन रतिया ।—कबीर॰ श॰, भा॰ ३, पृ॰ ७ ।