बल्ला

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बल्ला ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ वल (=लट्ठा या डंडा)] [स्त्री॰ अल्पा॰ बल्ली]

१. लकड़ी की लंबी, सीधी और मोटी छड़ या लट्ठा । डंडे के आकार का लबा मोटा टुकड़ा । शहतीर या डंडा । जैसे, साखू का बल्ला ।

२. मोटा डंडा । दंड । उ॰—कल्ला करे आगू जान देत लेत बल्ला त्यागे ढौंसत प्रबल्ला मल्ला धायो राजद्वार को ।—रघुराज (शव्द॰) ।

३. बाँस या डंडा जिससे नाव खेते हैं । डाँड़ा ।

४. गेंद मारने का लकड़ी का डंडा जो आगे की ओर चौड़ा और चिपटा होता है । बैट । यौ॰—गेंद बल्ला ।

बल्ला ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ वलय] गोबर की सुखाई हुई पहिए के आकार की गोल टिकिया जो होलिका जलने के समय उसमें डाली जाती है ।