बहस

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बहस ‡ ^१ संज्ञा पुं॰ [देश॰] सम । उ॰—विषम बहस अरु विषम बहस इम पद चलु द्वालै हेक पखैं ।—रघु॰ रू॰, पृ॰ ६२ ।

बहस ^२ संज्ञा स्त्री॰ [अ॰]

१. वाद । दलील । तर्क । खंडन मंडन की युक्ति । किसी विषय को सिद्ध करने के लिये उत्तर प्रत्युत्तर के साथ बातचीत । क्रि॰ प्र॰—करना ।

२. विवाद । झगड़ा । हुज्जत ।

३. होड़ । बाजी । बदाबदी । उ॰—मोहि तुम्हैं बाढ़ी बहस को जीतै जदुराज । अपने अपने बिरद की दुहूँ निबाहत लाज ।—बिहारी (शब्द॰) । यौ॰—बहस मुबाहसा = तर्क वितर्क । वादविवाद ।