बुलाना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बुलाना क्रि॰ स॰ [हिं॰ बोलना का सक॰ रूप]

१. आवाज देना । पुकारना ।

२. अपने पास आने के लिये कहना ।

३. किसी को बोलने में प्रवृत्त करना । बोलने में दूसरे को लगाना ।