भइया

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भइया संज्ञा पुं॰ [हिं॰ भाई + इया (प्रत्य॰)]

१. भाई । उ॰— भोर के आए दोऊ भइया । कीनों नाहिन कलेऊ दइया ।— नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ २५५ ।

२. एक आदरसूचक शब्द जिसका व्यवहार प्रायः बराबरवालों के लिये होता है ।