भकत्यानन्द

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भकत्यानंद संज्ञा पुं॰ [सं॰ भक्ति + आनन्द] भक्ति का आनंद । उ॰—अब विधि भक्तयानंद जु पग्यौ । ब्रज कौ भाग सराहन लग्यौ ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ २७२ ।