भखी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भखी संज्ञा स्त्री॰ [देश॰] एक प्रकार की घास जो दलदलों में उत्पन्न होती है । खवी । विशेष—यह नैनीताल में बहुत होती है और छप्पर छाने के काम में आती है । इसकी ट्टियाँ भी बनती हैं । इसके फल में नारंगी की सी महक होती है । पकने पर यह लाल रंग की हो जाती है । इसे चौपाए बड़े चाव से चरते हैं । इसे 'खवी' भी कहते हैं ।