भविष्य

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भविष्य ^१ वि॰ [सं॰ भविष्यत्] वर्तमान काल के उपरात आनेवाला । (काल) । वह (काल) जो प्रस्तुत काल के समाप्त हो जाने पर आनेवाला हो । आनेवाला (काल) ।

भविष्य ^२ संज्ञा पुं॰ दे॰ 'भविष्यत्' । यो॰—भविष्यकाल = व्याकरण में वह काल जो अभी न आया हो । आनेवाला काल । भविष्यज्ञान =भविष्य की जानकारी । भविष्य या होनहार का ज्ञान । भविष्यपुराण = १८ पुराणों में से एक का नाम । वि॰ दे॰ 'पुराण' ।