भास्वर

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भास्वर ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. कुष्ठ । का औषध । कोढ़ की दवा ।

२. दिन ।

३. सूर्य ।

४. अग्नि । कृशानु (को॰) ।

५. सूर्य का एंक अनुचर जिसे भगवान् सूर्य ने तारकासुर के वध के समय स्कंद को दिया था ।

भास्वर ^२ वि॰ दीप्तियुक्त । चमकदार । प्रकाशमय । चमकीला ।