भी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भी ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰] भय । डर । खौफ । उ॰—सुनत आइ ऋषि कुसहरे नरसिंह मंत्र पढ़ि भय भी के ।—तुलसी (शब्द॰) ।

भी ^२ अव्य॰ [हिं॰ ही]

१. अवश्य । निश्चय करके । जरूर । विशेष—इस अर्थ में इसका प्रयोग किसी एक पदार्थ या मनुष्य के साथ दूसरे पदार्थ या मनुष्य का निश्चयपूर्वक होना सूचित करता है । जैसे,—(क) तुम्हारे साथ में भी चलूँगा । (ख) वेतन के साथ भोजन भी मिलेगा । (ग) सजा के साथ जुरमाना भी होगा ।

२. अधिक । ज्यादा । विशेष । जैसे—इसपर सन्नाटा और भी आश्चर्यजनक है ।

३. तक । लौं । उ॰—मनुष्य की कौन कहे, जहाँ तक दृष्टि जाती थी, पशु भी दिखलाई न देता था । —अयोध्यासिंह (शब्द॰) ।