भृङ्गराज

विक्षनरी से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

भृंगराज सज्ञा पुं॰ [सं॰ भृङ्गराज]

१. भँगरा । नामक वनस्पति । भँगरँया । घमरा ।

२. काले रंग का एक प्रसिद्ध पक्षी जो प्रायः सारे भारत, बरमा, चीन आदि देशों में पाया जाता है । भोमराज । वि॰ दे॰ 'भीमराज' ।

भृंगराज घृत सज्ञा पुं॰ [सं॰ भृङ्गराजघृत] वैद्यक में एक प्रकार का वृत जो साधारण घी में भँगरैया का रस मिलाकर बनाया जाता है । कहते है, इसकी नास लेने से सफेद बाल काले हो जाते हैं ।