मखमल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मखमल संज्ञा स्त्री॰ [अ॰ मखमल]

१. एक प्रकार का बहुत बढ़िया रेशमी कपड़ा जो एक ओर से रूखा और दूसरी ओर से बहुत चिकना और अत्यत कोमल होता है । इस और छोटे छोटे रेशमी रोएँ भी उभरे रहते हैं ।

२. एक प्रकार की रगीन दरी जिसकै बीचोबीच एक गोल चंदोआ बना रहता है ।