मतवाला

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मतवाला ^१ वि॰ पुं॰ [सं॰ मत्त हिं॰ + वाला (प्रत्य॰)] [ वि॰ स्त्री॰ मतवाली]

१. नशे आदि के कारण मस्त । मदमस्त । नशे में चूर ।

२. उन्मत्त । पागल ।

३. जिसे अभिमान हो । व्यर्थ अहंकार करनेवाला ।

मतवाला ^२ संज्ञा पुं॰

१. वह भारी पत्थर जो किले या पहाड़ पर से निचे के शत्रुओं को मारने के लिये लुढ़काय जाता है ।

२. कागज का बना हुआ एक प्रकार व । गावदुमा खिलौना जिसके नीचे का भाग मिट्टी आदि भरी होने के कारण भारी होता है और जो फेंकने पर सदा खड़ा ही रहता है, जमीन पर लोटता नहीं ।

मतवाला ^३ वि॰ पुं॰ [सं॰ मत + हिं॰ वाला (प्रत्य॰)] किसी मत, संप्रदाय या सिद्धांत को माननेवाला । उ॰—उसे काव्य क्षेत्र से निकलकर मतवालों (सांप्रदायिकों) के बीच अपना हाव भाव दिखाना चाहिए । चिंतामणि, भा॰ २, पृ॰ ६३ ।