मनोविज्ञान

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मनोविज्ञान संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. वह शास्त्र् जिसमें चित्त की वृत्तियों का विवेचन होता है । वह विज्ञान जिसके द्वारा यह जाना जाता है कि मनुष्य के चित्त में कौन सी वृत्ति कब, क्यों और किस प्रकरा उत्पन्न होती है । चित्त की वृत्तियों की मीमांसा करनेवाला शास्त्र । यौ॰—मनेविज्ञानवेत्ता= दे॰ 'मनोवैज्ञानिक' ।