मान्यता

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मान्यता संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. मानने का भाव । मान्य होने का भाव । मान्य होना । उ॰— आप की मान्यताएँ इतनी रोमांटिक होंगी ऐसा नहीं समझती थी ।— नदी॰, पृ॰ ३० ।

२. स्वीकृति या प्रामाणिकता । जैसे,— संस्कृत विद्यार्थियों को भी प्रतियो- गिता परीक्षाओं में संमिलित होने की मान्यता प्राप्त हो गई है ।