मिलना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

क्रिया[सम्पादन]

अनुवाद[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मिलना ^१ क्रि॰ अ॰ [सं॰ मिलन]

१. एक पदार्थ का दूसरे में पड़ना । संमिलित होना । मिश्रित होना । जैसे, दाल में नमक मिलना ।

२. दो भिन्न भिन्न पदार्थों का एक होना । बीच में का अंतर मिटना । जैसे,—अब ये दोनों मकान मिलकर एक हो गए हैं ।

३. संमिलित होना । समूह या समुदाय के भीतर होना । जैसे;—(क) हमारी किताबें भी इन्हीं में मिल गई हैं । (ख) अब वह भी जात में मिल गए हैं । यौ॰—मिलाजुला = (१) संमिलित । (२) मिश्रित । मुह॰—मिलीमार = ऊपर से मिला रहना और भीतर से हानि पहुँचाने की कोशिश करना । उ॰—मानी मार की मिली मार कर कुतूहल दिखला रही है ।—प्रेमघन॰, भा॰ २, पृ॰ १२५ ।

४. सटना । जुड़ना । चिपकना ।

५. आकृति, गुण आदि में समान होना, बिलकुल या बहुत कुछ बराबर होना । जैसे,—(क) इन दोनों पुस्तकों का विषय बहुत कुछ मिलता है । (ख) इन दोनों का स्वभाव बहुत कुछ मिलता है । यौ॰—मिलता जुलता = एक सा । समान । तुल्य ।

६. भेंट होना । मुलाकात होना । देखादेखी होना । जैसे,—वह मुझसे रोज मिलते हैं । यौ॰—मिलनातुर = मिलने के लिये व्यग्र ।

७. विरोध या द्वेष दूर होना । मेल मिलाप होना ।

८. संभोग करना । मैथुन करना ।

९. किसी के पक्ष में हो जाना । जैसे,— अब तो आप भी उधर ही जा मिले ।

१०. लाभ होना । नफा होना । फायदा होना । जैसे,—इस सौदे में आपको भी कुछ मिलकर ही रहेगा ।

११. प्रत्यक्ष होना । सामने आना । पता तगना । जैसे, रास्ता मिलना । संयो॰ क्रि॰—जाना ।

१२. बजने से पहले बाजों का सुरा या आवाज ठीक होना । जैसे, तबला मिलना, सारंगी मिलना ।

१३. प्राप्त होना । उपलब्ध होना । जैसे,—यह पुस्तक बाजार में मिलती है ।

१४. मूल्य पर प्राप्त होना । जैसे,—गेहूँ एक रुपए का सवा सेर मिलता है ।

१५. मुलाकात करना । भेंटना ।

१३. आलिंगन करना । छाती से लगाना । गले लगाना । भेंटना । जैसे, राम और भरत का मिलना । मुहा॰—मिल जुलकर = एक होकर । संघटित होकर । मिलना जुलना = अन्य लोगों से भेंट मुलाकात करना । परस्पर संवंध रखना । मिल बाँटकर खाना = समान भाव से किसी वस्तु का उपयोग करना । बराबर हिस्सा लगाकर किसी वस्तु को लेना ।

मिलना पु ^१ क्रि॰ स॰ [ ? ] गौ आदि का दूध दुहना ।