मेहतर

विक्षनरी से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मेहतर संज्ञा पुं॰ [फ़ा॰ मेहतर, तुल॰ सं॰ महत्तर]

१. बुजुर्ग । सबसे बड़ा । जैसे, सरदार, शाहजादा, मालिक, हाकिम, अमीर आदि ।

२. [स्त्री॰ मेहतरानी] नीच मुसलमान जाति जो झाडू देने, गंदगी उठाने आदि का काम करती है । मुसलमान भंगी । हलालखोर ।