या

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

या पसंद करने का काम । चुनाव । जैसे,—कविताओं का निर्वाचन सुंदर हुआ है ।

२. किसी को किसी पद या स्थान के लिये, उसके पक्ष में 'वोट' देकर, हाथ उठाकर या चिट्ठी डालकर चुनने या पसंद करने का काम । जेसे,—व्यवस्थापिका सभा के इस बार के निर्वाचन में अच्छे आदमी निर्वाचित हुए हैं । यौ॰—निर्वाचनक्षेत्र = चुनाव का क्षेत्र ।

या मजबूती के लिये किसी दीवार से लगातार कुछ ऊपर तक जमाया हुआ मिट्टी, ईट पत्थर आदि का ढेर या ढालुवाँ टीला ।

२. पानी की रोक के लिये कुछ दूर तक उठाया हुआ टीला । बाँध । ऊची मेंड़ ।

३. किताब की जिल्द के पीछे का चमड़ा । क्रि॰ प्र॰—उठाना ।—देना ।—बाँधना ।

४. पौने चार मात्राओं का एक ताल जिसमें तीन अघात और एक खाली रहता है ।

या ^१ अव्य॰ [फा॰] विकल्पसूचक शब्द । अथवा । वा । उ॰— आप रहा है सीस नवाय । या प्रवाह ने दिया झुकाय ।—प्रताप- नारायण मिश्र (शब्द॰) ।

या ^२ सर्व॰ वि॰ [हिं॰] 'यह' का वह रूप जो उसे व्रज भाषा में कारक चिह्न लगने के पहले प्राप्त होता है । उ॰—(क) या चौदहें प्रकास मे ह्वैहै लंका दाह ।— केशव (शब्द॰) । (ख) चलौ लाल या बाग में लखी अपूरब केलि ।— मतिराम (शब्द॰) ।

या ^३ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. योनि ।

२. गति । चाल ।

३. रथ । गाड़ी ।

४. अवरोध । रोक । वारण ।

५. ध्यान ।

६. प्राप्ति । लाभ ।