रसूख

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

रसूख संज्ञा पुं॰ [अं॰ रूसूख]

१. प्रवेश । पहुँच । रसाई ।

२. दक्षता । कुशालता ।

३. प्रेमव्यवहार । मेलजोल । उ॰— रामलाल, शंकर खत्री और हमारे अपने लाला जी का उनसे रसुख था ।— अभिशप्त॰ पृ॰ १०२ ।