लकुट

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

लकुट ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ लकुट ( = लगुड)] लाठी । छड़ी । उ॰—छोटी सी लकुट हाथ, छोटे छोटे बचवा साथ, छोटे से कान्है देखाति गोपी आई घरन की ।—नंद॰ ग्रं॰, पृ॰ ३३८ ।

लकुट ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ लकुच]

१. मध्यम आकार का एक प्रकार का वृक्ष जो प्रायः सारे भारत में और विशेषतः बंगाल में अधिकता से पाया जाता है । विशेष—इसकी डालियाँ टेढ़ी मेढी और छाल पतली और खाकी रंग की होती है । इसकी टहनियों के सिरे पर गुच्छों में पत्ते लगते हैं जो अनीदार और कँगूरेदार होते हैं । साथ में सफेद रंग के छोटे छोटे फूलों के भी गुच्छे लगते हैं ।

२. इस वृक्ष का फल जो प्रायः गुलाब जामुन के समान होता और वसंत ऋतु में पकता है । यह फल मीठा होता है और खाया जाता है । लुकाठ । लखोट ।