लवण

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

संज्ञा

अनुवाद

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

लवण ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. नमक । लोन । विशेष—दे॰ 'नमकं'

२. काटना । काटने की क्रिया । लवना (को॰) ।

३. खड़् युद्ध का एक प्रकार (को॰) ।

४. वस्तु जिससे लवाई की जाय काटने की वस्तु हँसिया आदि (को॰) ।

५. एक असुर जो । दानव का पुत्र था और जिसे शत्रुघ्न ने मारा था । विशेष 'लवणसुर' ।

६. एक नरक का नाम (को॰) ।

७. पुराण ो सात समुद्रों में से एक । खारे पानी का समुद्र । विशेष दे॰ 'लवणसमुद्र' ।

लवण ^२ वि॰ [सं॰]

१. नमकीन । खारा ।

२. जिससे काटा जाय । काटनेवाला (को॰) ।

३. लविण्ययुक्त । सलोना । सुंदर ।

लवण व्यापतू संज्ञा स्त्री॰ [सं॰] घोड़ों की एक प्रकार की गहरी पीड़ा जो अधिक नमक खाने से होती है ।

लवण संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. दीप्ति । आभा ।

२. महाज्योतिष्मती लता ।

३. चुक ।

४. चँगेरी ।

५. अमलोनी शाक ।

६. एक नदी का नाम । लूनी ।