वंकनाली

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

वंकनाली संख्या स्त्री॰ [हिं॰ वंक+नाड़ी] साघुओं की बोकचाल में सुषुम्ना नामक नाड़ी, जो मध्य में मानी गई है । उ॰—वंकनालि सदा रस पीवै, तब यहु मनुवाँ कही न जाय । बिगसै कँवल प्रेम जब उपजै ब्रहा जीव को करें सहाय । —दादू (शब्द॰) ।