विकाल

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

विकाल ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. अतिकाल । देर ।

२. ऐसा समय जब देवकार्य या पितृकार्य करने का समय बीत गया हो ।

३. सायं- काल का समय । पर्या॰—सायं । दिनांत । सायाह्न । विकालक ।

विकाल ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ द्विकाल, प्रा॰ वि+काल] दोनों काल—प्रातः सायं । उ॰—होम जाप अस्नान विकाला । तजहि न एकौ तिनहुँ क हाला ।—चित्रा॰,पृ॰ ११ ।