विरद

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

विरद ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ विरुद]

१. बड़ा नाम । लंबा चौड़ा या सुंदर नाम ।

२. ख्याति । प्रसिद्धि । उ॰—बड़े न हुजै गुनन बिनु विरद बड़ाई पाय । कहत धतूरा को कनक गहनों गढ़्यो न जाय ।—बिहारी (शब्द॰) ।

३. यश । कीर्ति । विशेष दे॰ 'विरुद' ।

विरद ^२ वि॰ [सं॰] बिना दाँत का ।