व्यवहार

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

विशेषण

किसी का किसी पर प्रतिक्रिया देना उसका व्यवहार कहलाता है।

अनुवाद

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

व्यवहार संज्ञा पुं॰ [सं॰ व्यवहार]

१. दे॰ 'व्यवहार' ।

२. रूपए का लेन देन ।

३. रूपए के लेन देन का संबध ।

४. सुख दुःख में परस्पर संमिलित होने का संबध । इष्ट मित्र का संबध । जैस,— हमारा उनका व्यवहार नही है ।

व्यवहार संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. क्रिया । कार्य । काम ।

२. आपस में एक दूसरे के साथ बरतना । बरताव । जैसे,—हमारा उनका इस तरह का व्यवहार नहीं है ।

३. व्यापार । रोजगार ।

४. लेनदेन का काम । महाजनी ।

५. झगड़ा । विवाद ।

६. न्याय ।

७. शर्त । पण ।

८. स्थिति ।

९. दो पक्षों में होनेवाला वह झगड़ा जिसका फैसला अदालत से हो । मुकदमा ।

१०. प्रयोग (को॰) ।

११. आचरण (को॰) ।

१२. रीति । प्रथा । रिवाज (को॰) ।

१३. पेशा । धंधा (को॰) ।

१४. संबंध । मेलजोल (को॰) ।

१५. कामधाम सम्हालने की योग्यता (को॰) ।

१६. पद (को॰) ।

१७. तलवार । खड्ग (को॰) ।

१८. अभियोग या मामले की छानबीन (को॰) ।

१९. दंड (को॰) ।

२०. एक वृक्ष (को॰) ।

व्यवहार तंत्र संज्ञा पुं॰ [सं॰ व्यवहार तन्त्र] आचार शास्त्र [को॰] ।

व्यवहार लक्षण संज्ञा पुं॰ [सं॰] व्यवहार या मुकदमे की जाँच विषयक विशेषता [को॰] ।

व्यवहार विधि संज्ञा स्त्री॰ [सं॰] वह शास्त्र जिसमें व्यवहार संबंधी बातों का उल्लेख हो । वह शास्त्र जिसमें व्यवहार या मुकदमों आदि का विधान हो । धर्मशास्त्र ।

व्यवहार विषय संज्ञा पुं॰ [सं॰] मुकदमे की कार्यवाही का क्रम [को॰] ।