शतरंज

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

संज्ञा

शतरंज का एक खेल

शतरंज

  1. दो खिलाड़ियों के लिए एक बोर्ड खेल, जिसकी शुरुआत शतरंज के मोहरो (सोलह) के साथ होती है जो तय नियमो पर शतरंज के बोर्ड पर चलते है, जिनक उद्देश्य सामने वाले खिलाड़ी के राजा को मात देना होता है।

अनुवाद

खेल

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

शतरंज संज्ञा पुं॰ [फा॰; मि॰ सं॰ चतरङ्ग] एक प्रकार का प्रसिद्ध खेल जो चौंसठ खानों की विसात पर खेला जाता है । विशेष—यह खेल दो आदमी खेलते हैं जिनमें से प्रत्येक के पास १६-१६ मुहरे होते हैं । इन सालह मुहरों में एक बादशाह, एक वजीर, दो ऊँट, दो घोड़े, दो हाथी या किश्तया तथा आठ प्यादे होते हैं । इनमें से प्रत्येक मुहरे का कुछ विशिष्ट चाल हाती हैं, अर्थात् उसके चलनक कुछ विशिष्ट नियम होते है । उन्हीं नियमा के अनुसार विपक्षा के मुहरे मर जाते हैं । जब बादशाह किसी ऐसे घर मे पहुँच जाता है जहाँ से उसके चलने का जगह नहीँ रहता, तब बाजी मात समझा जाती है । इसका बिसात म आठ आठ खाना का आठ पक्तिया होती है । विशेष दे॰ 'चतुरंग' शब्द ।

यह भी देखिए