शीघ्र

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

विशेषण

अनुवाद


प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

शीघ्र ^१ क्रि॰ वि॰ [सं॰] बिना बिलंब । बिना देर के । चटपट । तुरंत । जल्द ।

शीघ्र ^२ संज्ञा पुं॰

१. लामज्जक या लामज नामक तृण ।

२. भागवत के अनुसार कुरुवंशीय अग्निवर्ण के पुत्र का नाम ।

३. वायु । हवा ।

४. वह अंतर जो पृथ्वी के दो भिन्न भिन्न स्थानों से ग्रहों के देखने में होता है ।

५. चक्रांग ।

शीघ्र कर्म संज्ञा पुं॰ [सं॰] ग्रह सयोग की गणना [को॰] ।