सँहारना

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

सँहारना पु क्रि॰ स॰ [सं॰ संहरण] दे॰ 'संहारना' । उ॰—उहाँ तो खड्ग नरंदइ मारों । इहाँ तो बिरह तुम्हार सँहारों ।—जायसी (शब्द॰) ।