संयोजन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संयोजन संज्ञा पुं॰ [सं॰] [वि॰ संयोगी, संयोजनीय, संयोज्य, संयोजित]

१. जोड़ने या मिलाने की क्रिया ।

२. सहवास । स्त्री पुरुष का प्रसंग ।

३. संसार के बंधन में रखनेवाला । भवबंधन का कारण (बौद्ध) ।

४. आयोजन । व्यवस्था । प्रबंध । इंतजाम ।