संविधान

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संविधान संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. व्यवस्था । आयोजन । प्रबंध ।

२. विधि । रीति । दस्तूर ।

३. रचना । सजना ।

४. विचित्रता । अनूठापन ।

५. कथा में घटनाओं का क्रम व्यवस्थापन (को॰) ।

६. किसी राष्ट्र का वह वैधानिक ढाँचा जिससे वह संचालित होता है । राष्ट्रविधान । वह विधान या सिद्धांतों का समूह जिसके आधार पर किसी राष्ट्र, राज्य या संस्था का संघटन और संचालन होता है । (अं॰ काँस्टिट्यूशन) । यौ॰—संविधानज्ञ, संविधान शास्त्री=संविधान को जाननेवाला । संविधान का विशेषज्ञ । संविधान सभा=संविधान का निर्माण करनेवाली सभा या समिति ।