सामग्री पर जाएँ

संसृष्टि

विक्षनरी से


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संसृष्टि संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. एक साथ उत्पत्ति या आविर्भाव ।

२. एक में मेल या मिलावट । मिश्रण ।

३. परस्पर संबंध । लगाव ।

४. हेलमेल । घनिष्ठता । मेल मुआफिकत ।

५. बनाने की क्रिया या भाव । संयोजन । रचना ।

६. एकत्र करना । इकट्ठा करना । जुटाना ।

७. संग्रह । समूह । राशि ।

८. दो या अधिक काव्यालंकारों का ऐसा मेल जिसमें सब परस्पर निरपेक्ष हों; अर्थात् एक दूसरे के आश्रित, अंतर्भूत आदि न हों ।

९. सहभागिता । साझेदारी (को॰) ।

९. एक ही परिवार में मिल जुलकर रहना । दे॰ 'संसृष्टत्व'-२ ।