सत्य

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

संज्ञा[सम्पादन]

पु.

अनुवाद[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

सत्य ^१ वि॰ [सं॰]

१. जो बात जैसी है, उसके संबंध में वैसा ही (कथन) । यथार्थ । ठीक । वास्तविक । सही । यथातथ्य । जैसे,— सत्य बात, सत्य वचन ।

२. असल ।

३. ईमानदार । निष्कपट । विश्वस्त (को॰) ।

४. सद्गुणी । सच्चरित्र ।

५. जो झूठा न हो । सच्चा (को॰) ।

सत्य ^२ क्रि॰ वि॰ सचमुच । ठीक ठीक ।

सत्य ^३ संज्ञा पुं॰

१. वास्तविक बात । ठीक बात । यथार्थ तत्व । जैसे, —सत्य को कोई छिपा नहीं सकता । विशेष—बौद्ध धर्म में चार आर्य सत्य कहे गए हैं—दुःख सत्य (संसार दुःख रूप है यह सत्य बात), दुःख समुदय (दुःख के कारण), दुःखनिरोध (दुःख रोका जाता है) और मार्ग (निर्वाण का मार्ग) । बौद्ध दार्शनिक दो प्रकार का सत्य मानते हैं—संवृत्ति सत्य (जो बहुमत से माना गया हो) और परमार्थ सत्य (जो स्वतःसत्य हो) ।

२. उचित पक्ष । न्याय पक्ष । धर्म की बात । ईमान की बात । जैसे,—हम सत्य पर दृढ़ रहेंगे ।

३. पारमार्थिक सत्ता । वह वस्तु जो सदा ज्यों की त्यों रहे, जिसमें किसी प्रकार का विकार या परिवर्तन न हो (वेदांत) । जैसे,—ब्रह्म सत्य है और जगत् मिथ्या है ।

४. ऊपर के सात लोकों में से सबसे ऊपर का लोक जहाँ ब्रह्मा अवस्थान करते हैं ।

५. नवें कल्प का नाम ।

६. अश्वत्थ वृक्ष । पीपल का पेड़ ।

७. विष्णु का एक नाम ।

८. रामचंद्र का एक नाम ।

९. नांदीमुख श्राद्ध के अधिष्ठात ा देवता ।

१०. विश्वेदेवा में से एक ।

११. शपथ । कसम ।

१२. प्रतिज्ञा । कौल ।

१३. चार युगों में से पहला युग । कृतयुग ।

१४. एक दिव्यास्त्र ।

१५. ईमानदारी । निष्कपटता (को॰) ।

१६. भद्रता । सद्गुण । शुचिता (को॰) ।

१७. जल । पानी (को॰) ।

१८. विशुद्धता । खरापन (को॰) ।

१९. एक ऋषि ।

२०. सात व्याह्मतियों में से एक (को॰) ।

२१. ब्रह्म (को॰) ।

२२. मोक्ष (को॰) । यौ॰—सत्यकृत्=उचित कार्य को करनेवाला । सत्यग्रंथी=जिसकी ग्रंथि सत्य हो । सच्ची और ठीक गाँठ बांधनेवाला । सत्यध्न= सत्य की हत्या करनेवाला । शपथ या प्रतिज्ञा भंग करनेवाला । सत्यनिष्ठ=सचाई पर दृढ़ रहनेवाला । सत्यमेव=अत्निमुनि के एक पुत्र का नाम । सत्यपाल=एक ऋषि । सत्यपूत=सत्य द्वारा शुद्ध । सत्यप्रतिश्रुत=बात का धनी । सत्यप्रितष्ठान=जिसकी नींव सत्य पर आद्दृत हो । सत्यबंध=जो सत्य से बँधा हुआ हो । सत्यवादी । सत्यभारत=महाभारतकार व्यासदेव का एक नाम । सत्यभेदी=बादा तोड़नेवाला । सत्ययौवन । सत्यरत=(१) सत्यबादी । (२) व्यास । सत्यरथ=विदर्भ के एक राजा । सत्यरुप=(१) वास्तविक स्वरुप वाला । (२) विश्वास योग्य । सत्यवाहन=जो सत्य का वहन करनेवाला हो । सत्यविक्रम= सच्चा वीर । सत्यवृत्त=अच्छे आचरणवाला । सत्यवृति=सदा- चार । सत्यशपथ=(१) जिसकी प्रतिज्ञा पूरी होकर रहे । (२) जिसका शाप झुठा न हो । सत्यसंरक्षण=सत्य की रक्षा करना । वचन का पालन । सत्यसार=जो पूर्णत: सत्य ही । सत्यस्वप्न=जिसका सपना सच्चा हो ।

यह भी देखिए[सम्पादन]