सफाई

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

सफाई संज्ञा स्त्री॰ [अ॰ सफ़ा + ई (प्रत्य॰)]

१. सफा होने का भाव । स्वच्छता । निर्मलता ।

२. मैल, कूड़ा, करकट आदि हटाने की क्रिया । जैसे,—मकान की सफाई ।

३. अर्थ या अभिप्राय प्रकट होने का गुण ।

४. स्पष्टता । चित्त से दुर्भाव आदि का निकलना । मन में मैल न रहना । जैसे,—सामने बातचीत कर लो; दिलों की सफाई हो जाय ।

५. कपट या कुटिलता का अभाव । दुराव का न होना । जैसे,—आज उन्होंने बड़ी सफाई से बात की ।

६. दोषारोप का हटना । इलजाम का दूर होना । निर्दोंषिता । जैसे,—उसने अपनी सफाई के लिये बहुत कुछ कहा ।

७. ऋण का परिशोध । कर्ज या हिसाब का चुकता होना । बेबाकी ।

८. मामले का निबटारा । निर्णय ।

९. खात्मा । समाप्ति (को॰) ।

१०. ऊबड़खाबड़ न रहना । खुरदुरापन का अभाव (को॰) ।

११. बरबादी । विनाश । तबाही ।

१२. चिकनापन । स्निधता (को॰) । मुहा॰—सफाई कर देना = (१) साफ, बेबाक या स्वच्छ कर देना । (२) समाप्त या खत्म कर देना । (३) बरबाद कर देना । सफाई देना = निर्दोषिता प्रमाणित करना । कसूरवार न होने का सबूत देना ।