सम्बन्ध

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संबंध ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ संबन्ध सम्बन्ध]

१. एक साथ बँधना, जुड़ना या मिलना ।

२. लगाव । संपर्क । वास्ता । विशेष—दर्शन में संबंध तीन प्रकार के कहे गए हैं—समवाय, संयोग और स्वरूप ।

३. एक कुल में होने के कारण अथवा विवाह, दत्तक आदि संस्कारों के कारण परस्पर लगाव । नाता । रिश्ता ।

४. गहरी मित्रता । बहुत मेलजोल ।

५. संयोग । मेल ।

६. विवाह । सगाई ।

७. ग्रंथ । पोथी ।

८. एक प्रकार की ईति या उपद्रव ।

९. किसी सिद्धांत का हवाला ।

१०. व्याकरण में एक कारक जिससे एक शब्द के साथ दूसरे शब्द का संबंध या लगाव सूचित होता है । जैसे,—राम का घोड़ा । विशेष—बहुत से वैयाकरण 'संबंध' को शुद्ध कारक नहीं मानते । हिंदी में संबंध के चिह्न 'का', 'की' 'के' हैं ।

१०. योग्यता । औचित्य (को॰) ।

११. समृद्धि । सफलता (को॰) ।

१२. नातेदारी । रिश्तेदारी (को॰) ।

संबंध ^२ वि॰

१. समर्थ । योग्य ।

२. उचित । उपयुक्त । ठीक [को॰] ।