साठी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

साठी ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰ षष्टिक] एक प्रकार का धान । विशेष—कहते हैं कि यह धान साठ दिन में तैयार हो जाता है—साँवा, साठी साठ दिना देब बरीसै रात दिना । इसी से इसे साठी कहते हैं । इसके दाने दो प्रकार के होते हैं—काले और सफेद । काले की अपेक्षा सफेद दानेवाला अधिक अच्छा समझा जाता है । इसमें गुण अधिक होता है ।

साठी पु ^२ संज्ञा पुं॰ [हिं॰] दे॰ 'साँटा-१' । उ॰—कालबूत कसणी भई, सेवग साठो जान । रज्जब ताबै तोरगर, यूँ सतगुरु की बानि ।—रज्जब॰, पृ॰ २० ।