सास

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

संज्ञा

स्त्री.

अनुवाद

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

सास ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ श्वश्रु] पति या पन्नी की माँ ।

सास पु ^२ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ श्वास] दे॰ 'साँस' । उ॰— झाबकि पइठी झालि, सुंदरि दीठी सास विण । — ढोला॰, दू॰६०४ ।

सास ^३ वि॰ [सं॰] धनुषयुक्त । धनुष रखनेवाला [को॰] ।

यह भी देखिए