सीधा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

सीधा ^१ वि॰ [सं॰ शुद्ध, ब्रज॰ सूधा, सूधो] [वि॰ स्त्री॰ सोधी]

१. जो बिना कुछ इधर उधर मुड़े लगातार किसी ओर चला गया हो ।

२. जो किसी ओर ठीक प्रवृत्त हो । जो ठीक लक्ष्य की ओर हो । मुहा॰—सीधा करना=लक्ष्य की ओर लगाना । निशाना साधना, (बंदूक आदि का) । सीधी राह=सुमार्ग । अच्छा आचरण । सीधी सुनाना=(१) साफ साफ कहना । खरा खरा कहना । लगी लिपटी न रखना । (२) भला बुरा कहना । दुर्वचन कहना । गालियाँ देना । सीधा आना=सामना करना । भिड़ जाना ।

३. जो कुटिक या कपटी न हो । जो चालबाज न हो । सरल प्रकृति का । निष्कपट । भोला भाला ।

४. शांत और सुशील । शिष्ट । भला । जैसे—सीधा आदमी । मुहा॰—सीधी आँखों न देखना=(किसी का) सह न सकना । (किसी का) अच्छा न लगना । (किसी की) उपस्थिति खट- कना । उ॰—पढ़कर पुस्तक न फाड़ डालनेवालों को भी कदापि सीधी आँखों नहीं देख सकते ।—प्रेमघन॰, भा॰ २, पृ॰ २८६ । सीधी तरह=शिष्ट व्यवहार से । नरमी से । जैसे—(क) सीधी तरह बोलो । (ख) वह सीधी तरह न मानेगा । सीधी अँगुली घो न निकलना=बिना कड़ाई के कार्य का न होना ।

५. जो नटखट या उग्र न हो । जो वदमाश न हो । अनुकूल । शांत प्रकृति का । जैसे—सीधा जानवर, सीधा लड़का । यौ॰—सीधा सादा=(१) भोला भाला । निष्कपट । (२) जिसमें बनावट या तड़क भड़क न हो । मुहा॰—(किसी को) सीधा करना=दंड़ देकर ठीक करना । शासन करना । रास्ते पर लाना । शिक्षा देना । सीधा दिन= अच्छा दिन । शुभ दिन या मुहूर्त । जैसे—सीधा दिन देखकर यात्रा करना ।

६. जिसका करना कठिन न हो । सुकर । आसान । सहल । जैसे,— सीधा काम, सीधा सवाल, सीधा ढंग ।

७. जो दु्र्बोध न हो । जो जल्दी समझ में आवे । जैसे—सीधी सी बात नहीं समझ में आती ।

८. दहिना । बायाँ का उलटा । जैसे,—सीधा हाथ ।

सीधा ^२ क्रि॰ वि॰ ठीक सामने की और । सम्मुख । मुहा॰—सीधा तीर सा=एकदम सीध में ।

सीधा ^३ संज्ञा पुं॰ [सं॰ असिद्ध, सिद्ध]

१. बीना पका हुआ अन्न । जैसे,— दाल, चावल, आटा ।

२. वह बिना पका हुआ । अनाज जो ब्राह्मण या पुरोहित आदि को भोजनार्थ दिया जाता है । जैसे— एक सीधा इस ब्राह्मण को भी दे दो । क्रि॰ प्र॰—छूना ।—देना ।—निकालना ।—मनसना ।

सीधा सादा वि॰ [हिं॰] भोला भाला । जैसे—वह बहुतसीधा सादा व्यक्ति है ।