सूचि

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

सूचि ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. सूई ।

२. एक प्रकार का नृत्य ।

३. केवड़ा । केतकी पुष्प ।

४. सेना का एक प्रकार का व्यूह जिसमें थोड़े से बहुत तेज और कुशल सैनिक अग्रभाग में रखे जाते हैं और शेष पिछले भाग में होते हैं ।

५. कटहरा । जँगला ।

६. दरवाजे की सिटकनी ।

७. निषाद पिता और वैश्य माता से उत्पन्न पुत्र ।

८. एक प्रकार का मैथुन ।

९. सूप बनानेवाला । शूर्पकार ।

१०. करण ।

११. कुशा । श्वेतदर्भ ।

१२. दृष्टि । नजर ।

१३. कोई भी सूई की तरह नुकीला सिरा । जैसे, कुशसूचि (को॰) ।

१४. दे॰ 'सूची' ।

१५. नाटकीय कर्म । नाट्य अभिनय (को॰) ।

१६. स्तूप (को॰) ।

१७. अंगचेष्टा द्वारा संकेत । हावभाव (को॰) ।

१८. वेधन या छेदन क्रिया (को॰) ।

सूचि ^२ वि॰ [सं॰ शुचि] पवित्र । शुद्ध । (डिं॰) ।