स्क्रू

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

स्क्रू संज्ञा पुं॰ [अं॰] वह कील या काँटा जिसके नुकीले आधे भाग पर चक्करदार गड़ारियाँ या चूड़ियाँ बनी होती हैं और जो ठोंककर नहीं, बल्कि घुमाकर जड़ा या कसा जाता है । पेंच । क्रि॰ प्र॰—कसना ।—खोलना ।—जड़ना ।—निकालना ।