स्वयंसिद्ध

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

स्वयंसिद्ध वि॰ [सं॰ स्वयम्सिद्ध]

१. (बात) जो आप ही आप सिद्ध हो । जिसकी सिद्धि के लिये और किसी तर्क, प्रमाण या उपकरण आदि की आवश्यकता न हो । जैसे,—आग से हाथ जलता है, यह तो स्वयंसिद्ध बात है ।

२. जिसने आप ही सिद्धि प्राप्त की हो । जो बिना किसी की सहायता के सिद्ध या सफल हुआ हो ।