स्वारस्य

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

स्वारस्य संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. सरसता । रसीलापन । लालित्य । उ॰— कथाओं का स्वारस्य कम हो गया है । —द्बिवेदी (शब्द॰) ।

२. स्वाभाविकता ।

३. स्वाभाविक रसमयता या मिठास (कौ॰) ।