हजम

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

हजम ^१ संज्ञा पुं॰ [अ॰] स्थुलता । मोटाई । दल ।

२. —आकार प्रकार [को॰] ।

हजम ^२ संज्ञा पुं॰ [अ॰ हजम, हज्म]

१. पेट में पचने की क्रिया या भाव । पाचन ।

२. पाचन शक्ति । हाजमा (को॰) ।

३. तस्करता । गबन [को॰] ।

हजम ^३ वि॰

१. जो पाचन शक्ति द्बारा रस या धातु के रूप में हो गया हो । पेट में पचा हुआ । जैसे,—दूध हजम होना । रोटी हजम करना । क्रि॰ प्र.—करना ।—होना ।

१. बेईमानी से दूसरे से लेकर जो न दी गई हो । बेईमानी से लिया हुआ । अनुचित रीति से अधिकार किया हुआ । जैसे— (क) दूसरी का माल या रूपया हजम करना । (ख) दूसरे की चीज हजम करना । क्रि॰ प्र॰—करना ।—होना ।—कर जाना ।—कर लेना । मुहा॰—हजम होना = बेईमानी से ली हूई वस्तु का अपने पास रहना । जैसे—बेईमानी का माल हजम न होना ।