हर

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

हर ^१ वि॰ [सं॰]

१. हरण करनेवाला । ले लेनेवाला । छीनने या लूटनेवाला । जैसे,—धनहर, वस्त्रहर, पश्यतोहर ।

२. दूर करनेवाला । मिटानेवाला । न रहने देनेवाला । जैसे,—रोगहर, पापहर ।

३. बध करनेवाला । नाश करनेवाला । मारनेवाला । जैसे,—असुरहर ।

४. ले जानेवाला । लानेवाला । पहुँचानेवाला ।

हर ^२ संज्ञा पुं॰

१. शिव । महादेव ।

२. एक राक्षस जो वसुदा के गर्भ से उत्पन्न माली नामक राक्षस के चार पुत्रों में से एक था और विभीषण का मंत्री था ।

३. गणित में वह संख्या जिससे भाग दें । भाजक ।

४. गणित में भिन्न में नीचे की संख्या ।

५. अग्नि । आग ।

६. गदहा ।

७. छप्पय के दसवें भेद का नाम ।

८. टगण के पहले भेद का नाम ।

९. ग्रहण करना या लेना (कौ॰) ।

१०. हरण करना (को॰) ।

११. ग्रहण करनेवाला व्यक्ति । ग्राहक (को॰) ।

हर † ^३ संज्ञा पुं॰ [सं॰ हल] हल । यौ॰—हरवाहा । हरवल । हरौरी । हरहा ।

हर पु ^४ वि॰ [हिं॰ हरा या सं॰ हरित]दे॰ 'हरा' और 'हरियर' । उ॰ —बोलि विप्र सोधे लगन्न, सुध घटी परट्ठिय । हर बाँसह मंडप बनाय करि भाँवरि गंठिय । —पृ॰ रा॰, २० । ६९ ।

हर ^५ वि॰ [फा॰] प्रत्येक । एक एक । जैसे, (क) हर शख्स के पास एक एक बंदूक थी । (ख) वह हर रोज आता है । यौ॰—हरकारा । हरजाई । मुहा॰—हर एक=प्रत्येक । एक एक । हर कोई या हर किसी= प्रत्येक मनुष्य । सब कोई या सब किसी । सर्वसाधारण । जैसे,—हर किसी के पास ऐसी चीज नहीं निकल सकती । हर कोई=सर्व- साधारण । जैसे,—हर कोई यह काम नहीं कर सकताहर । तरह= प्रत्येक ढंग से । हर हालत में । हर फन मौला=हर एक फन जाननेवाला । प्रत्येक काम में माहिर । हर दफा, हर बार या हर मर्तबा=प्रत्येक अवसर पर । हर रोज=प्रतिदिन । नित्य । हर वक्त=हर समय । हर दम । निरंतर । हर हाल में=प्रत्येक दशा में । हर दम=प्रतिक्षण । सदा । जैसे,—वह हर दम यहीं पड़ा रहता है । हर यक=दे॰'हर एक' । हर हमेशा=सदा । सर्वदा ।

हर ^६ संज्ञा पुं॰ [जर॰] अंग्रेजी के मिस्टर शब्द का जरमन समानार्थवाची शब्द । महाशय । जैसे, —हर स्ट्रस्मैन, हर हिटलर ।

हर चुड़ामणि संज्ञा पुं॰ [सं॰ हरचूड़ामणि] शिव का शिरोभूषण, चंद्रमा [को॰] ।