हे

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

हे ^१ अव्य॰ [सं॰] संबोधन शब्द । पुकारने में नाम लेने के पहले कहा जानेवाला शब्द ।

हे पु † ^२ क्रि॰ अ॰ ब्रज 'हो' (= था) का बहुवचन । थे । उ॰— जहँ के सहज विनोद हे मोहन मन के ।—प्रेमघन॰, भा॰ १, पृ॰ ३ ।