ह्विप

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

ह्विप संज्ञा पुं॰ [अं॰]

१. पार्लमेंट या व्यवस्थापिका सभा का वह सदस्य जो अपनी पार्टी या दल के सदस्यों को किसी महत्व के प्रश्न पर वोट या मत लिए जाने के समय सभा में अधिकाधिक संख्या में उपस्थित करता है । दलदूत । जैसे,—इस बार परिषद् के स्वराजी दल के ह्विप के उद्योग से दल के समस्त सदस्य १२ ता॰ को अधिवेशन में उपस्थित हुए थे ।—(शब्द॰) । विशेष—ह्विप का काम है, अपने दल के प्रत्येक सदस्य को सूचित करना कि अनुक समय पर अमुक महत्व के विषय पर वोट या मत लिए जायँगे, और इस बात का ध्यान रखना कि वोट लिए जाने के पहले सभा से दल का कोई सदस्य बाहर न जाने पावे (अर्थात् उन सबको सभा में रोक रखना); अपने दल के सदस्यों को बताना कि किस प्रकार वोट देना चाहिए; वोट लिए जाने के समय प्रत्येक दल के सदस्यों की गणना करना; अपने दल के सदस्यों से मिलते जुलते रहना और किसी विषय पर उनका क्या निश्चित मत है, यह अपने दल के नेता को विदित करना, जिसमें वह निश्चय कर सके कि कहाँ तक हमें इस विषय में अपने दल का सहारा मिलेगा । सारंश यह कि ह्विप का काम दल के स्वार्थ या हित का देखना है ।

२. चाबुक ।

३. सारथी । कोचवान ।