अथवा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

संयोजन

  1. या

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अथवा अव्य॰ [सं॰] एक वियोजक अव्यय जिसका प्रयोग उस स्थान पर होचा है जहाँ दो या कई शब्दों या पदों में से किसी एक का ग्रहण अभीष्ट हो । या । वा । किंवा । उ॰—निज कबित्त केहि लाग न नीका । सरस होइ अथवा अति फीका ।—मानस, १ ।८ ।